यूपी मे लाक-डाउन के दौरान मदरसों में होगी अब इस तरह पढ़ाई




लखनऊ , उत्तर प्रदेश सरकार ने लाक-डाउन के दौरान मदरसों में व्हाटसएप वर्चुअल क्लास आयोजित करने के निर्देश दिये हैं।



अल्पसंख्यक कल्याण एवं वक्फ अनुसचिव इच्छाराम ने उप्र मदरसा शिक्षा परिषद के रजिस्ट्रार को इस बावत एक पत्र भेजा है जिसमें कहा गया है कि कोविड-19 के संक्रमण के चलते एक अप्रैल से शुरू होने वाले वर्तमान शैक्षिक सत्र में मदरसे बन्द होने के कारण पठन-पाठन की प्रक्रिया आन-लाइन शुरू किये जाने की जरूरत है।



उन्होंने कहा कि चूंकि पिछले शैक्षणिक सत्र के समाप्त होने के पूर्व से ही लाक-डाउन होने के कारण मदरसे बन्द है। इसलिये यदि रमजान माह का प्रयोग भी शैक्षिक कार्य के लिये किया जाता है तो इससे छात्र-छात्राओं का व्यापक शैक्षिक हित होगा। इसके मद्देनजर मदरसे में आन-लाइन पठन-पाठन की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कार्यवाही किया जाना अपेक्षित है।



अनुसचिव ने कहा है कि सबसे पहले सभी जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी जिले के सभी मदरसों के प्रधानाचार्यों का व्हाटसएप गुप बनाये। जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी प्रधानाचार्यो से चर्चा करके लाक-डाउन के दौरान कितना पाठ्यक्रम पूर्ण करना है, निर्धारित करा लें। सभी मदरसों के प्रधानाचार्य पृथक से अपने मदरसे के सभी शिक्षकों का व्हाटसएप ग्रुप बनायेगें।



उप्र मदरसा शिक्षा परिषद की वेबसाइट पर उपलब्ध पाठ्य पुस्तकें के लिंक एवं दीक्षा पोर्टल से सभी कक्षाओं के एनसीईआरटी सैलेबस के अनुसार विषयवार वीडियों को डाउन लोड कर व्हाटसएप के माध्यम से अध्यापकों को उपलब्ध कराया जायेगा। प्रत्येक मदरसा कक्षावार समय सारिणी तैयार कर अध्यापन हेतु विषयवार विभाजित कर अध्यापन कार्य करायेगा। प्



हर मदरसे द्वारा अपने मदरसे की समय-सारिणी व्हाटसएप ग्रुप संचालन के लिये विषयवार पूर्व में ही व्हाटसएप ग्रुप पर सभी विद्यार्थियों को प्रेषित कर दी जायेगी। समीक्षा के लिये मदरसे के प्रत्येक व्हाटसएप ग्रुप में मदरसे के प्रधानाचार्य को अवश्य जोडा जायेगा। शिक्षक प्रत्येक दिन का पाठ्य योजना बनायेगें एवं उस पाठ के लिये मदरसा शिक्षा परिषद की वेबसाइट/दीक्षा पोर्टल से डाउन लोड ई-पुस्तक/वीडियो शिक्षकों द्वारा व्हाटसएप ग्रुप के माध्यम से कम से कम एक दिन पूर्व ही विद्यार्थियों को उपलब्ध करा दिया जायेगा।