कांग्रेस ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के निर्विरोध चुने जाने का रास्ता किया साफ




मुंबई, कांग्रेस ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के निर्विरोध चुने जाने का रास्ता साफ कर दिया है। महाराष्ट्र कांग्रेस ने रविवार को अपने दूसरे उम्मीदवार राज किशोर मोदी का नामांकन राज्य विधान परिषद के चुनाव से वापस लेने का फैसला किया है।



महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस समिति के मुताबिक, सीएम उद्धव ठाकरे निर्विरोध विधान परिषद सदस्य बनेंगे। शिवसेना ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और विधान परिषद की डिप्टी चेयरपर्सन नीलम गोरहे को प्रत्याशी बनाया है।



महाराष्ट्र विधान परिषद की नौ सीटों पर 21 मई को होने वाले चुनावों के लिए कांग्रेस ने दो के बजाय एक ही प्रत्याशी उतारने का फैसला किया है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे समेत सभी नौ प्रत्याशी अब निर्विरोध चुने जा सकते हैं।



वहीं इससे पहले भाजपा नेता आशीष शेलार ने कहा था कि यदि महाराष्ट्र विधान परिषद के निर्विरोध चुनाव पर हर (प्रमुख) पार्टी सहमत होती है तो भाजपा भी सहमत होगी। भाजपा ने चार उम्मीदवार उतारे हैं।  



नामांकन की अंतिम तिथि 11 मई है। 24 अप्रैल को नौ सदस्यों का कार्यकाल खत्म होने के बाद विधान परिषद की ये नौ सीटें रिक्त हो गई थीं।