जेई एई संचारी रोगों के लिये जागरूकता अभियान चलाने का सीएम ने दिया निर्देश




लखनऊ, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के विरुद्ध व्यापक पैमाने पर संघर्ष जारी है और ऐसे में,जेई, एईएस तथा अन्य विषाणुजनित रोगों के दृष्टिगत किसी भी प्रकार की लापरवाही या शिथिलता न बरती जाए।



श्री योगी ने आज यहां अपने सरकारी आवास पर जे ई व ए ई एस रोगों के नियंत्रण के सम्बन्ध में अन्तर्विभागीय समीक्षा बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इन रोगों के नियंत्रण के सम्बन्ध में एक नोडल अधिकारी नियुक्त किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जेई व ए ई एस के सम्बन्ध में नोडल अधिकारी के स्तर पर साप्ताहिक, प्रमुख सचिव स्तर पर पाक्षिक तथा मंत्री स्तर पर मासिक समीक्षा बैठकें सुनिश्चित की जाएं।



उन्होंने कहा कि सभी सम्बन्धित विभाग अभी से कार्य योजना बनाकर कोरोना महामारी के दृष्टिगत सोशल डिसटेंसिंग का पालन करते हुए, संचारी रोगों के नियंत्रण की प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि पिछले तीन वर्षों के दौरान किए गए प्रयासों से जे ई एवं एईएस के नियंत्रण में निरन्तर अच्छी सफलता मिली है। गत वर्ष की ही भांति इस वर्ष भी संचारी रोग नियंत्रण अभियान को और अधिक तेजी प्रदान करते हुए संचालित किया जाए।



मुख्यमंत्री ने सम्बन्धित विभागों से इन रोगों के नियंत्रण व रोकथाम के सम्बन्ध में किए जा रहे कार्यों की जानकारी प्राप्त की। साथ ही, उन्होंने नगर विकास, पंचायतीराज, महिला एवं बाल विकास, ग्राम्य विकास, चिकित्सा शिक्षा, बेसिक व माध्यमिक शिक्षा, कृषि, सिंचाई, पशुपालन विभाग को स्वास्थ्य विभाग के साथ समन्वय बनाकर जे ई और एईएस की रोकथाम व नियंत्रण की कार्यवाही में और तेजी लाए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि व्यापक जागरूकता का कार्यक्रम संचालित किया जाए।