एशिया के सबसे बड़े क्राउड फंडिंग प्लेटफॉर्म ने कोरोना से निपटने के लिए जुटाये 90 करोड़




नयी दिल्ली , एशिया के सबसे बड़े क्राउड फंडिंग प्लेटफॉर्म मिलाप ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए किये गये लॉकडाउन में लोगों की मदद के उद्देश्य से 90 करोड़ रुपये की राशि जुटायी है।



मिलाप ने जारी बयान में कहा कि गत 22 मार्च से उसने अपने प्लेटफार्म का इस फंडिंग के लिए इस्तेमाल करना शुरू किया था। इस दौरान हजारो लोगों ने मिलकर लगभग 90 करोड़ रुपये की राशि जुटायी है। उसने कहा कि ऑनलाइन फंडिंग अभियान न केवल फंसे हुये प्रवासियों और दिहाड़ी मजदूरों को आवश्यक वस्तुयें पहुंचाने और सामुदायिक रसोई में मदद रहा है बल्कि यह समाज के अन्य समुदायों की भी सहायमा कर रहे हैं।



मिलाप के अध्यक्ष और सह संस्थापक अनोज विश्वानाथन ने कहा कि चेन्नई , असम और केरल में बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदाओं के समय क्राउफडिंग ने लोगों को एकजुट किया और बुरी तरह से प्रभावित लोगों को उनका जीवन फिर से शुरू करने में मदद की।



उन्होंने कहा कि अब जब सभी का जीवन किसी न किसी तरह से प्रभावित हुआ है तो ऐसे में यह अभियान आशा की किरण है । पिछले एक महीने में उनके प्लेटफॉर्म पर पूछे जाने वाले प्रश्नों में पांच गुना से अधिक और पैसा जुटाने के अभियान में 65 फीसदी की बढ़ोत्तरी दर्ज की गयी है।



उन्होंने कहा कि प्राथमिकता के तौर पर कोरोना से जुड़ी पहल के लिए प्लेटफॉर्म शुल्क को माफ कर दिया गया है ताकि जरूरतमंदों को सभी सहायता मिल सके। उन्होंने कहा कि प्राथमिक तौर पर सबसे ज्यादा प्रभावित समुदाय जैसे दिहाड़ी और प्रवासी श्रमिकों के लिए भोजन और राशन की व्यवस्था के लिए धन जुटाया गया। उसके बाद स्वास्थ्यकर्मियों और अग्रिम पंक्ति के कर्मचारियों की सिकित्सा और व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरणों के लिए धन जुटाया गया है।