आंध्रप्रदेश से ट्रेन द्वारा भोपाल पहुँचे 368 श्रमिक


भोपाल, कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण के मद्देनजर देश में लागू लॉकडाउन के दौरान आंध्रप्रदेश के विजयवाड़ा में फंसे मध्यप्रदेश के 368 मजदूर आज श्रमिक स्पेशल ट्रेन से भोपाल पहुँचे, यहाँ से उन्हें बसों द्वारा उनके गृह नगर भेजा गया।



आधिकारिक जानकारी के अनुसार आंध्रप्रदेश के विजयवाड़ा से एक श्रमिक स्पेशल ट्रेन आज सुबह साढ़े नौ बजे हबीबगंज रेलवे स्टेशन पहुँची। इस विशेष ट्रेन से विजयवाड़ा में लॉकडाउन के कारण फंसे मध्यप्रदेश के 25 जिलों के श्रमिक आए हैं। ये श्रमिक वहाँ विभिन्न इकाइयों में कार्यरत थे। इन श्रमिकों को आज जिला प्रशासन द्वारा समुचित व्यवस्थाओं के साथ उनके गृह नगर भेजा गया है।



अपने गृह नगर भेज गए श्रमिकों में बैतूल के 18, भिंड के 50, भोपाल के 11, गुना के चार, ग्वालियर के 17, मुरैना के नौ, रायसेन के 92, राजगढ़ के पाँच, सागर का एक, सीहोर के 29, श्योपुर के नौ, शिवपुरी के 10, विदिशा का एक, अलीराजपुर के चार, बड़वानी के पांच, बुरहानपुर के 10, देवास के 10, धार के तीन, इंदौर के 20, खंडवा के छह, मंदसौर के चार, नीमच के दो, शाजापुर के 19 और उज्जैन जिले के 13 श्रमिक शामिल हैं। इन श्रमिकों को लगभग 30 बसों के माध्यम से उनके गृह नगर भेजा गया है।



श्रमिकों को उनके गृह नगर रवाना करने के पहले जिला प्रशासन द्वारा उनके लिए चाय-नाश्ता, भोजन-पानी, बिस्किट के पैकेट की व्यवस्था की गई। जिला प्रशासन द्वारा की गई व्यवस्थाओं के लिए श्रमिकाें ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और जिला प्रशासन का आभार व्यक्त किया है।