कोरोना कवच बनाएगा ऑर्डिनेंस फैक्ट्री बोर्ड

नयी दिल्ली, सैन्य साजो-सामान बनाने वाला आर्डिनेन्स फैक्ट्री बोर्ड भी अब काेरोना महामारी से जंग लड़ने के लिए स्वास्थ्यकर्मियों के लिए व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) किट बना रहा है और उसने चालीस दिन में इस तरह के एक लाख से अधिक उपकरण बनाने का लक्ष्य रखा है।


फैक्ट्री बोर्ड को हिन्दुस्तान लाइफ केयर लिमिटेड (एचएलएल) ने एक लाख 10 हजार ‘कवरआल’ बनाने का आर्डर दिया है। ये कवर आल 40 दिन में तैयार करने का लक्ष्य रखा गया है। कवर आल कोरोना के उपचार और इसकी जांच करने वाले स्वास्थ्यकर्मियों के लिए विशेष रूप से फायदेमंद होता है और कवच का काम करता है।


फैक्टरी बोर्ड ने दो मीटर के विशेष तंबू भी बनाये हैं जिनका इस्तेमाल मेडिकल आपातकाल, स्क्रीनिंग और क्वारंटाइन में किया जा सकता है। ये वाटरप्रूफ फैब्रिक, माइल्ड स्टील और अल्यूमिनियम अयस्क के बने होते हैं। कुछ एजेन्सियों को इनकी आपूर्ति भी शुरू कर दी गयी है। इसके अलावा हैंड सैनिटाइजरों का निर्माण युद्ध स्तर पर किया जा रहा है और 70,000 लीटर से अधिक सैनेटाइजर की आपूर्ति की जा चुकी है। रक्त की जांच के लिए चेन्नई और कानपुर में दो परीक्षण सुविधा केंद्र बनाये गये हैं।


दस अस्पतालों में लगभग 280 बेड आइसोलेशन के लिए रखे गए हैं। साथ ही 90,000 से अधिक नॉन-मेडिकल मास्कों का निर्माण किया गया है और उन्हें वितरित भी कर दिया गया है। मेडिकल मास्कों के लिए परीक्षण सुविधाएं भी इस सप्ताह शुरू हो जाएंगी।