जम्मू में तब्लीगी जमाती को पकड़ा, क्वारंटीन किया गया

जम्मू, जम्मू पुलिस ने सोमवार को शहर के बाहरी इलाके में यात्रा के विषय में कोई जानकारी नहीं देने पर नगरोटा इलाके में तब्लीगी जमात में शामिल हुए एक व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने यहां बताया कि आरोपी तब्लीगी जमाती को उसके रिश्तेदार के साथ क्वारंटीन किया गया है। पुलिस ने कहा, “वर्तमान में यात्रा के विषय को छिपाने वाले लोगों तक पहुंचने के लिए पुलिस बड़े पैमाने पर अभियान चला रही है और इस अभियान के दौरान नगरोटा पुलिस ने अब तक ऐसे 178 लोगों की पहचान की है।”


उन्हाेंने बताया कि एक व्यक्ति की मोहम्मद असलम के रूप में पहचान की गई है जो मोहम्मद इरशाद का पुत्र है और मूल रूप से रियासी जिले का रहने वाला है। उसके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 269, 270 और आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 51 के तहत मामला दर्ज करने के बाद उसे क्वारंटीन में भेजा गया है।


पुलिस ने बताया आरोपी इस वर्ष जनवरी और फरवरी में उत्तर प्रदेश में रहा था और जहां से वह फरवरी के अंत में सीधे दिल्ली पहुंचा और निजामुद्दीन मरकज में तब्लीगी जमात में शामिल हुआ। उन्होंने बताया कि मरकज में जमात में शामिल होने के बाद वह जम्मू पहुंचा और उसके बाद अपने 10 साथियों के साथ रियासी पहुंचा। रियासी पुलिस उसके 10 साथियों के पास पहुंची और उन्हें क्वारंटीन किया तो मोहम्मद असलम वहां से नगरोटा जाने के लिए भाग गया। वह नगरोटा में अपने रिश्तेदार के यहां रुका हुआ था और जैसे ही इसकी सूचना मिली पुलिस ने असलम को घर पर ही क्वारंटीन कराया गया। उसके रिश्तेदारों को घर पर क्वारंटीन किया गया है।