देश में कोरोना की स्थिति बहुत ज्यादा गंभीर, सरकार ने मज़ाक बना दिया- कांग्रेस

नयी दिल्ली,  देश में कोरोना की स्थिति बहुत ज्यादा गंभीर है लेकिन हमारे पास कोरोना टेस्टिंग की पर्याप्त सुविधा नही है इसलिए असली


तस्वीर सामने नहीं आ रही है।


यह बात कांग्रेस के वरिष्ठ नेता तथा पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कही।


कमलनाथ ने रविवार को कांग्रेस की प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि कोरोना के मामलों को लेकर जो आंकड़े सामने आ रहे है स्थिति उससे खराब है।


टेस्टिंग के बाद ही इसकी हकीकत का पता चल रहा है लेकिन हमारे पास टेस्टिंग सुविधा नहीं है।


इसका मतलब जितने कम टेस्टिंग होगी उतना ही कम कोरोना के मामले सामने आएंगे।


उन्होंने कहा कि सरकार ने टेस्टिंग को लेकर स्थिति का मज़ाक बना दिया है।


कभी कहती है कोरोनॉ टेस्टिंग किट मनेसर में बन रही है , कभी कहती है जल्दी ही किसी और जगह से आने वाली है।


उनका कहना था कि 90 प्रतिशत टेस्टिंग सुविधा चीन से आती है लेकिन वहां जिन देशों ने पहले आर्डर दिए होंगे पहले उनको ही मिलेगी।


श्री कमलनाथ ने कहा कि गंभीर स्थिति यह है आज केवल शहरों क्षेत्र में टेस्टिंग हो रही है।


उन्होंने सवाल किया“हमारे ग्रामीण क्षेत्रों में कितनी टेस्टिंग हो रही है।


मध्य प्रदेश में गिने-चुने लोगों की टेस्टिंग होती है, मेरे ख्याल से 25 या 30 लोगों की टेस्टिंग होती है, 10 लाख लोगों में से।


तो जितना टेस्ट उतना कोरोना, जितना टेस्ट कम करो, उतना कम कोरोना, जितना टेस्ट ज्यादा करो, उतना ज्यादा कोरोना।”


उन्होंने कहा कि चिंता की बात है कि कोरोना को लेकर जो आकंड़े सामने आ रहे हैं ये शहरी क्षेत्रों के हैं, ग्रामीण क्षेत्र के नहीं हैं।


मध्य प्रदेश में गांव से जो लोग बाहर से लौटे है क्या टेस्टिंग हो रही है, इसके बारे में कोई आंकड़े ही नहीं हैं ।