आज पहली बार सुनसान रही संविधान निर्माता डॉ बी आर आम्बेडकर की जन्मस्थली

महू, संविधान निर्माता डॉ बी आर आम्बेडकर की जन्मस्थली महू उनकी 129 वी जयंती के अवसर पर आज पहली बार सुनसान रही।


आंबेडकर जयंती पर मंगलवार को स्थानीय प्रशासन के कुछ अधिकारी सुबह आंबेडकर स्मारक गए और मोमबत्तियां जलाकर उन्हें याद किया।


कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देशव्यापी बंद को देखते हुए इसबार बाबा साहेब के अनुयायियों को स्मारक स्थल पर आने की अनुमति नहीं दी गयी अन्यथा उनकी जयंती पर बढ़ी संख्या में लोग इकट्ठा होते थे।


एक अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए सामाजिक दूरी के दिशानिर्देशों के चलते परिसर में लोगों को जाने की अनुमति नहीं दी गयी।


संविधान निर्माता डॉ बी आर आंबेडकर का जन्म 14 अप्रैल 1891 को महू कस्बे के काली पल्टन क्षेत्र में हुआ था। इन्दौर जिले में स्थित यह कस्बा भारतीय सेना का एक प्रमुख छावनी केन्द्र भी है।


प्रदेश सरकार ने यहां वर्ष 2003-04 में उनकी याद में एक भव्य स्मारक बनवाया था।